नई दिल्ली: इस साल के नए नाम मेजर ध्यानचंदू के लिए अभूतपूर्व 11 खिलाड़ियों की सिफारिश की गई है Khel Ratna राष्ट्रीय खेल पुरस्कार चयन समिति द्वारा सेवानिवृत्त सुप्रीम कोर्ट के न्यायाधीश, न्यायमूर्ति मुकुंदकम शर्मा, टीओआई की अध्यक्षता में सीखा है।
यह पहली बार है जब पुरस्कार समारोह के एक version के लिए इतने नामों की सिफारिश की गई है। पिछले साल, सरकार ने कुल 74 खिलाड़ियों को विभिन्न क्षेत्रों में राष्ट्रीय खेल और साहसिक पुरस्कारों से सम्मानित किया था। पुरस्कार पाने वालों में खेल रत्न श्रेणी में पांच और अर्जुन के लिए 27 शामिल हैं।
इस साल खेल रत्न, अर्जुन (35), ध्यानचंद, द्रोणाचार्य (नियमित) और द्रोणाचार्य (आजीवन) के लिए कुल 72 नामों की सिफारिश की गई है। सूची में राष्ट्रीय खेल प्रोत्साहन पुरस्कार (आरकेपीपी), मौलाना अबुल कलाम आजाद (माका) ट्रॉफी और तेनजिंग नोर्गे पुरस्कार के लिए अनुशंसित एथलीटों, कॉरपोरेट्स और खेल प्रचार बोर्डों और शीर्ष प्रदर्शन करने वाले विश्वविद्यालयों के नाम शामिल नहीं हैं।
भारत के सर्वोच्च खेल सम्मान – खेल रत्न के लिए जिन लोगों की सिफारिश की गई है, उनमें टोक्यो ओलंपिक स्वर्ण पदक विजेता भाला फेंक खिलाड़ी शामिल हैं। नीरज चोपड़ा, रजत विजेता पुरुष फ्रीस्टाइल पहलवान रवि दहिया, टोक्यो कांस्य पदक विजेता महिला वेल्टरवेट मुक्केबाज लवलीना बोरगोहेन और पुरुष हॉकी टीम के गोलकीपर पीआर Sreejesh. टोक्यो पैरालिंपिक में स्वर्ण जीतकर इतिहास रचने वाले पांच पैरा-एथलीटों को भी खेल रत्न के लिए नामांकित किया गया है। इनमें प्रमोद भगत (पैरा बैडमिंटन), सुमित एंटिलो (para-javelin), Avani Lekhara (para-shooting), Krishna Nagar (para-badminton) and Manish Narwal (para-shooting).

KHEL RATNA: Neeraj Chopra (athletics), Ravi Dahiya (wrestling), PR Sreejesh (hockey), Lovlina Borgohain (boxing), सुनील छेत्री (फुटबॉल), मिताली राज (क्रिकेट), प्रमोद भगत (पैराबैडमिंटन), सुमित अंतिल (पैरा-भाला), अवनि लेखारा (पैरा-शूटिंग), कृष्णा नगर (पैरा-बैडमिंटन) और मनीष नरवाल (पैरा-शूटिंग)।
अर्जुन पुरस्कार: Arpinder Singh (triple jump), Simranjit Kaur (boxing), Shikhar Dhawan (cricket), Bhavani Devi (fencing), Monika (hockey), Vandana Katariya (हॉकी), संदीप नरवाल (कबड्डी), हिमानी उत्तम परब (मल्लखंब), अभिषेक वर्मा (शूटिंग), अंकिता रैना (टेनिस), दीपक पुनिया (कुश्ती), दिलप्रीत सिंह (हॉकी), हरमनप्रीत सिंह (हॉकी), रूपिंदर पाल सिंह (हॉकी), सुरेंद्र कुमार (हॉकी), अमित रोहिदास (हॉकी), बीरेंद्र लाकड़ा (हॉकी), सुमित (हॉकी), नीलकांत शर्मा (हॉकी), हार्दिक सिंह (हॉकी), Vivek Sagar Prasad (हॉकी), गुरजंत सिंह (हॉकी), मनदीप सिंह (हॉकी), शमशेर सिंह (हॉकी), ललित कुमार उपाध्याय (हॉकी), Varun Kumar (हॉकी), सिमरनजीत सिंह (हॉकी), Yogesh Kathuniya (para-athletics), Nishad Kumar (para-athletics), Praveen Kumar (para-athletics), Suhash Yathiraj (para-badminton), सिंहराज अधाना (पैराशूटिंग), भावना पटेल (पैराटेबल टेनिस), हरविंदर सिंह (पैरा-तीरंदाजी) और शरद कुमार (पैरा-एथलेटिक्स)।
ध्यानचंद पुरस्कार: ओपी जैशा (एथलेटिक्स), दिव्या सिंह (बास्केटबॉल), केसी लेखा (मुक्केबाजी), अभिजीत कुंटे (शतरंज), दविंदर सिंह गरचा (हॉकी), विकास कुमार (कबड्डी), नीर बहादुर गुरुंग (पैरा स्पोर्ट्स एथलेटिक्स), पीएस अब्दुल रसाक ( वॉलीबॉल) और सज्जन सिंह (कुश्ती) द्रोणाचार्य (नियमित): जय प्रकाश नौटियाल (पैरा-शूटिंग), महावीर प्रसाद सैनी (पैरा-एथलेटिक्स), प्रीतम सिवाच (हॉकी), राधाकृष्णन नायर (एथलेटिक्स), संदीप सांगवान (हॉकी), संध्या गुरुंग (मुक्केबाजी), सुजीत मान (कुश्ती) और सुब्रमण्यम रमन (टेबल टेनिस)।
द्रोणाचार्य (जीवनकाल): आशान कुमार (कबड्डी), भास्कर चंद्र भट्ट (हॉकी), सीआर कुमार (हॉकी), जगरूप राठी (कुश्ती), एस मुरलीधरन (बैडमिंटन), सरकार तलवार (क्रिकेट), सरपाल सिंह (हॉकी), तपन कुमार पाणिग्रही (तैराकी) और टीपी औसेफ (एथलेटिक्स)।

.


Source link